Nawratan jap mala

Nawratan jap mala

Regular price Rs. 15,000.00 Sale price Rs. 11,000.00

108+1=109 Beads

नवरत्न माला के लाभ-

नौ रत्नों से निर्मित माला को “नवरत्न” माला कहा जाता है, भारतीय ज्योतिष शास्त्र अनुसार सूर्य, चन्द्र, मंगल, बुध, गुरु, शुक्र, शनि, राहु तथा केतु को नवग्रह कहा जाता है, नवरत्न की माला में सूर्य के लिए माणिक्य, चन्द्र के लिए मोती, मंगल के लिए मूंगा, बुध के लिए पन्ना, गुरु के लिए पुखराज, शुक्र के लिए हीरा, शनि के लिए नीलम, राहू के लिए गोमेद, केतु के लिए लहसुनिया रत्न प्राण प्रतिष्ठित करके लगाया जाता है, जिससें इस माला को धारण करने से बुरे प्रभाव को कम किया जा सकता है।

विज्ञान के अनुसार नवरत्न माला में एल्युमीनियम, ऑक्सीजन, क्रोमियम,लौह, केल्शियम कार्बोनेट, मैग्नीशियम, बैरीलियम, फ्लोरीन, हाइड्रोक्सल, जिक्रोनियम आदि तत्व पाये जाता है, जसको पहनने से शरीर में सप्तधातु और सकरात्मक उर्जा का विकास होता है।

यदि आपको लगातार मेहनत के बाद भी सफलता नही मिल रही, स्वास्थ्य ठीक न रहता हो, बनते-बनते कम बिगड़ते हो, घर-परिवार में शांति का वातावरण न हो तो या आपकी जन्मकुंडली में कोई बड़ा दोष हो, जिसके कारण आप जीवन में असफलता का मुहं देखते आ रहे हो, तो आपको अवश्य ही नवरत्न माला को धारण करना चाहिये।

 नवरत्न माला

नवरत्न की माला हर जगह आसानी से नही मिलती है, यह माला कई जगह पर यह माला नकली ही बेचीं जाती है, तो कई जगह नवरत्न माला के रत्न अच्छी माईस के नही होते, यदि होते भी है, तो वह पूर्ण प्राण-प्रतिष्ठित नही होते, कुछ लोगमानते है, की इस नवरत्न माला को कच्चे दूध में धोने से माला प्राण-प्रतिष्ठित सिद्ध हो जाती है, पर ऐसा नही है, सभी मालाओं को प्राण प्रतिष्ठित करने का अपना-अपना नियम और विधान है, नवरत्न की माला को अस्त्रों मंत्रा के सिद्ध साधक नवग्रहों के बीज मंत्रो से प्राण-प्रतिष्ठित करके, मन्त्र पुश्चरण करके सिद्ध करते है, तब जाकर यह माला पूर्ण सिद्ध होती है।

यदि ऐसी माला उपलब्ध हो जाए तो, इसके इतने लाभ है जनको शब्दों के माध्यम से यहाँ व्यक्त नही किया जा सकता।

नवरत्न माला के लाभ

नवरत्न माला  एक महत्वपूर्ण माला है, इस माला से जन्मकुंडली के त्रिकोण राशी से बने राजयोग कारक ग्रह सक्रीय होते है, जो मनुष्य की रक्षा करते है और उसे बल,वीर्य, साहस, शक्ति, आरोग्य प्रदान करते है।
नवग्रह की माला को धारण करने से नवग्रहों की शांति होती है, चाहे कोई भी ग्रह हो, यदि कोई ग्रह आपको आपको अशुभ फल दे रहा हो, आपको नवग्रह माला को धारण करने से शांत किया जा सकता है।
नवरत्न माला  से नवग्रहों के प्रतिकूल प्रभाव कम समाप्त होते है, जिससें जीवन में बिगड़े हुए काम बनने लगते है, मन में शांति बनी रहेती है और सभी दृष्टियों से धन का लाभ होता है।
नवरत्न माला  से किसी भी असाध्य रोग के प्रभाव को कम किया जा सकता है, जाहे वह रोग कैसा भी हो।
यदि लगातार परिश्रम के बाद भी, व्यापार में घाटा ही घाटा हो रहा हो, किसी भी काम में मन नही लग रहा हो या विवाह मे देरी हो तो नवग्रह माला को अवश्य ही धारण करना चाहियें।