Mah-e-mariyam

Mah-e-mariyam

Regular price Rs. 3,000.00 Sale price Rs. 2,525.00

 4 to 6 ct

 

Especially for Piles


माहेमरियम एक बहुत ही दुर्लभ रत्न है। यह एक जीवाश्म है जो हिमालय की उत्पत्ति के साथ ही अस्तित्व में आया। इसे ‘‘कैलिग्राफी’’ पत्थर भी कहते हैं क्योंकि इसे देखकर ऐसा प्रतीत होता है मानो एक कलाकार ने काली पृष्ठभूमि पर चित्रकारी की हो। माहेमरियम रत्न के अनेक उपयोग हैं जैसे- तनाव की स्थिति में भी शांति प्रदान करना, नकारात्मक परिस्थतियों को अनुकूल व सकारात्मक बनाना, आध्यात्मिक उन्नति, नकारात्मक ऊर्जा से रक्षा, सृजनात्मकता और सुंदरता को बढ़ाकर आत्म विश्वास की वृद्धि करना आदि। जब तनाव के कारण निर्णय क्षमता क्षीण होती प्रतीत हो, ऐसी स्थिति में इस रत्न को समीप रखना लाभदायक होता है। इस रत्न को धारण करने से बवासीर रोग में लाभ व ग्रह शांति मिलती है। जिनकी कुंडली में कालसर्प योग हो, उनके लिए यह विशेष लाभदायक है। यदि पेट खराब रहता हो, इलाज कराने पर भी ठीक न होता हो तो माहेमरियम धारण करें, लाभ होगा। कोर्ट कचहरी के मामलों में आने वाली अड़चनों को दूर करने के लिए भी यह रत्न धारण करने से लाभ होगा। शत्रुओं का शमन उनके द्वारा उत्पन्न बाधाओं से मुक्ति और विजय प्राप्त होती है। जिन लोगों की राहु केतु की दशा चल रही हो वह भी यह रत्न किसी विशेषज्ञ से परामर्श लेकर धारण कर सकते हैं। धारण विधि: इस रत्न को गंगाजल से धोकर अपने पूजा स्थान पर रखें। इष्ट देव का नाम लेकर धूप दीप करके उसे अंगूठी या लाॅकेट में जड़वाकर सोमवार या बुधवार के दिन धारण करें। नव ग्रह की शांति में अद्भुत लाभ मिलता है